सड़कों पर पच्च लगाने वाली सरकार है कांग्रेस: सुखबीर सिंह बादल

रामपुरा फूल, बठिंडा (एसएस बठिंडा): शिरोमणि अकाली दल की पोल खोल रैली बठिंडा के विधानसभा क्षेत्र रामपुरा फूल के भाईरूपा में की गई। इस रैली में शिरोमणि अकाली दल के प्रधान एवं पूर्व उप-मुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बादल, बीबी जगीर कौर, पूर्व कैबनिट मंत्री बिक्रम सिंह मजीठिया, कैबनिट मंत्री सिकंदर सिंह मलूका समेत काफी शिरोमणि अकाली दल के दिग्गज नेताओं ने शिरकत की।

इस समय पर लोगों के भारी इक्कट्ठ को संबोधित करते हुए सुखबीर सिंह बादल जी द्वारा कैप्टन सरकार पर जोरदार निशाने लगाए गए। सुखबीर सिंह बादल ने कहा कि कैप्टन सरकार मात्र दो साल की सरकार है क्योंकि इनके हाथ से अब सब कुछ छूटता हुआ नज़र आ रहा है। उन्होंने कहा कि जो वायदे कैप्टन सरकार ने चुनावों से पहले जो वादें किये थे उनको पूरा करना अब कैप्टन सरकार के बस की बात नही रही।

सुखबीर बादल ने कहा कि पंजाब का खज़ाना मंत्री मनप्रीत सिंह बादल अपने क्षेत्र को डुबोने के इरादे से चल रहा है। इन्होंने थर्मल बंद, आंगनवाड़ी सेंटर बंद, रामां मंडी रिफाइनरी में गुंडा टेक्स, जोजो टैक्स न जाने कितने टैक्स अपने ही हिसाब से बना लिए हैं और पंजाब की जनता के ख़िलाफ़ विश्वशघात कर दिया है।

सुखबीर ने कहा के कि विधानसभा में हमने जब कैप्टन सरकार से पूछा कि कोई एक काम तो बताओ जो आपकी सरकार ने किया है तो कैबनिट मंत्री चन्नी ने कहा कि हमने एक काम किया है और वो सड़कों पर पच्च लगाए हैं, तो सुखबीर बादल बोले तो क्या आपको पच्च लगाने वाली सरकार से बुलाया जाए।

19-Dec

सुखबीर ने कांग्रेस सरकार एवं 1984 सिख दंगो पर बोलते हुए कहा कि जगदीश टाइटलर ने तो एक टीवी चैनल को दिए इंटरव्यू में अब खुद ही कबूल लिया है कि उसने 100 सिखों को मारा था और बाद में अपनी कार में राजीव गांधी को बिठाकर सिखों को तड़पते हुए दिखाया और जब यह लोग सिखों के ही दुश्मन बन गए तो उन पीड़ितों को इंसाफ क्यों नही दिला रहे। सुखबीर जी ने कहा कि पंजाब में हुए धार्मिक ग्रंथों की बेअदबी मामलों में श्रोमणि अकाली दल का नही बल्कि इन जैसे सिखों के दुश्मनों का हाथ था।

सुखबीर बादल ने बताया कि पंजाब के युवाओं को नशे से मुक्ति दिलाने के लिए एवं एक सप्ताह में ही नशा ख़त्म करने के वादे को कैप्टन अमरिंदर सिंह ने हाथ में पवित्र श्री गुटका साहिब की कसम खाई थी किन्तु वो भी एक पंजाब के लोगों को गुमराह करने के लिए ही थी। जो लोग पवित्र श्री गुटका साहिब की झूठी कसम खा सकते हैं तो उनके ऊपर विश्वास कैसे किया जा सकता है।

सुखबीर जी ने कैप्टन पर निशाना लगाते हुए कहा कि अगर कैप्टन से सरकार नही चल रही तो वो हमको एक महीने के लिए सरकार सौंप दे और हम खज़ाना भर देंगे।
सुखबीर जी ने आम आदमी पार्टी को भी आड़ें हाथों लेते हुए कहा कि अब इस पार्टी का तो सफाया हो गया क्योंकि इन्होने ने तो झूठ बोलने के कारखाने खोल रखे थे और इनका खुद ही सफाया हो गया। अंतिम में सुखबीर जी ने अपने वर्करों को बताया कि अगर क्षेत्र में कांग्रेस वाले अपने या पुलिस कोई जबरदस्ती करते हैं तो वहाँ के पुलिस थाने के आगे धरना लगा दो क्योंकि इंसाफ मिलता नहीं बल्कि लेना पड़ता है।

पंजाब का खज़ाना मंत्री है बीमारू: मजीठिया

वहीं इस रैली में पहुंचे हुए बिक्रम सिंह मजीठिया ने भी कांग्रेस सरकार की पोलें खोली और कहा कि यह बंटी और बबली ने तो पंजाब के लोगों की नाक में दम कर रखा है।
बिक्रम मजीठिया ने खज़ाना मंत्री पंजाब मनप्रीत सिंह बादल के ऊपर खूब निशाने साधे।
उन्होंने कहा पंजाब का खजाना मंत्री मनप्रीत सिंह बादल बीमारू मंत्री है।

यह मनप्रीत सिंह बादल ने बठिंडा के लोगों से वाधा किया था कि वह इन थरमलों मे धुआं कभी रुकने नही दूँगा किन्तु किया क्या वो अब सब को पता है। पंजाब का खज़ाना मंत्री भी उस बस के ड्राइवर की तरह है जिसकी बस तो बढ़िया है किंतु ड्राइवर अनजान होने पर बस तो पलटेगी ही।

मजीठिया ने कहा कि किसानों का कर्जा तो माफ़ करना दूर की बात बल्कि पहली किश्त में ही 10 ऊपर से जमीन के मालिकों के कर्ज माफ कर दिए बल्कि एक गरीब किसान का कर्ज़ 107 रुपए माफ किया जो कि शर्म की बात है। किसानों के खेतों में मीटर लगा दिए और बिजली आती नही बल्कि अगर कोई आता है तो बिजली वाले। मैं तो यह सोचकर आया था कि हमारे क्षेत्र में तो किसी को मोबाइल नहीं मिला शायद आपके बठिंडा में किसी मोबाइल वाले के दर्शन हो जाएंगे किन्तु लगता है सभी के पास बाबा जी का ठुल्लू ही है।

1

बीबी जगीर कौर जी ने लोगों को सम्बोधित करते हुए कहा कि जब मैं पहली बार मंत्री बनी थी तो उस वक़्त बज़ुर्गों की पेंशन लगाने की मेरी ड्यूटी लगाई गई थी और हमने सभी बजुर्गो को पेंशन लगाकर दी किन्तु इस कांग्रेस सरकार के आने के बाद पेंशन तो दूर की बात शगन स्कीम भी बंद कर दी गयी।

जगीर कौर ने बताया कि सरदार प्रकाश सिंह बादल जी हमारे बड़े नेता जी ने उस वक़्त पीले रंगों की बसें भी बज़ुर्गों के लिए चलाकर दी थी जिससे किसी भी धार्मिक सथल के दर्शनों के लिए निशुल्क चलती थी और बाद में तो हमने उसको निजी कामों हेतु बज़ुर्गों महलाओं को फ्री बस पास की सहूलत भी दी थी। अब कैप्टन ने क्या दिया है पंजाब को यह अब पंजाब की जनता जान गई है।

इस मौके पर स्थानीय पूर्व विधायक सिकंदर सिंह मलूका जी ने भी क्षेत्र के विधायक गुरप्रीत सिंह कांगड़ ऊपर खूब तंज कसा और कहा कि हमें तो विधायक जी कभी क्षेत्र में दिखाई ही नही दिए। इनकी सरकार आने के बाद लॉ-एंड-आर्डर की धज्जियां उड़ाई गई और सरकार बनने के बाद हमारे वर्करों ऊपर 307 के मुकदमे दर्ज करवा दिया गए बल्कि मारे तो इनके अपने लोगों ने ही खुद को।

मलूका जी ने बताया कि 4 मुकदमे ऐसे हैं जिनकी अगर पड़ताल करोगे तो अगर हम गलत निकले तो मैं राजनीति छोड़ दूंगा। इस मौके पर रैली में सभी वर्कर एवं स्थानीय दिग्गज नेता अपने ट्रैक्टरों पर ही सवार होकर आए एवं लोगों के उमड़े इक्कट्ठ ने विरोधियों को परेशानी में डाल दिया।

jan sangathan

Media/News Company

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Facebook Auto Publish Powered By : XYZScripts.com