एनटी फोरम जालंधर, टैगोर हॉस्पिटल व जीडी गोयंका इंटरनेशनल स्कूल ने मेडिकल चेक-अप कैम्प लगाया

जालंधर: एक स्वस्थ शरीर में ही स्वस्थ मस्तिष्क निवास करता है। यह उक्ति बच्चों के विकसित हो रहे शरीर पर ज्यादा सार्थक सिद्ध होती है। खासकर स्कूल जाने वाले बच्चों के शारीरिक स्वास्थ्य व विकास पर ही उनके उज्ज्वल भविष्य की नींव रखी जाती है। जालंधर के ई॰ एन॰ टी॰ फोरम व टैगोर हॉस्पिटल, जालंधर ने जी॰ डी॰ गोएंका इंटरनेशनल स्कूल, जालंधर के तत्वाधान मे एक मेडिकल चेक-अप कैम्प का आयोजन किया। इस चेक-अप कैम्प मे शहर के प्रमुख विशेषज्ञों ने बच्चों के कान, नाक, गले और आँखों का व्यापक निरीक्षण किया।

SEP2

इस कैम्प का शुभारंभ डॉक्टर अमन गुप्ता ई॰ एन॰ टी॰ विशेषज्ञ, प्रेसिडेंट, ई॰ एन॰ टी॰ फोरम जालंधर, डॉक्टर मनु सेठ, ई॰ एन॰ टी॰ सर्जन, टैगोर हॉस्पिटल और डॉक्टर नलिनी, नेत्र सर्जन, टैगोर हॉस्पिटल की उपस्थिति में हुआ। उल्लेखनीय है कि भारत मे 30% से ज्यादा बहरेपन की बीमारियाँ उपचार योग्य होती हैं और उपेक्षा के कारण बड़ी बीमारियाँ बनकर बच्चों की पढ़ाई और स्वास्थ्य के खराब होने का कारण बन जाती हैं। विशेषज्ञों के अनुसार यदि इन बीमारियों का समय रहते पता लगाकर ईलाज करवाया जाए तो बच्चों को अच्छे स्वास्थ्य का फायदा मिल सकता है।

SEP1

स्कूल में यदि एक बच्चा ढंग से सुन या देख नहीं पाता है तो उसकी पढ़ाई पर भी इसका बुरा असर पड़ता है। ई॰ एन॰ टी॰ विशेषज्ञों के अनुसार वर्तमान मौसम गले, कान और नाक की परेशानियों में ध्यान रखने के लिए महत्वपूर्ण है। विद्यालय के प्रधानाचार्य अशोक कुमार जैन ने सभी ई॰ एन॰ टी॰ व नेत्र विशेषज्ञों और सहायक कर्मचारियों का धन्यवाद किया। इस अवसर पर विद्यालय के अध्यक्ष श्री टी॰ डी॰ दुआ ने भी उपस्थित रहकर कार्यक्रम को विशिष्टता प्रदान की।

jan sangathan

Media/News Company

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Facebook Auto Publish Powered By : XYZScripts.com