डिप्स U.E में एक दिवसीय वर्कशाप आयोजित

जालंधर: नन्हें मुन्नों को शिक्षा के प्रति आकर्षक करने तथा उनके मन में कुछ नया करने की चाह को पैदा करने के उदेश्य को मुख्य रखते हुए डिप्स अर्बन एस्टेट में रोचक गतिविधियों से कैसे जगाए जिज्ञासा विषय पर आधारित एक दिवसीय वर्कशाप का आयोजन किया गया। जिसमें मुख्य वक्ता के रूप में डिप्स एजुकेशनल रिसर्च एंड डेवलपमेंट बोर्ड प्री-विंग एडवाइजर मोनिका मेहता उपस्थित हुई। इस वर्कशाप में विभिन्न डिप्स संस्थानों के प्री विंग अध्यापको ने भाग लिया तथा शिक्षा में रोचकता लाने के नये तरीकों को सीखा। इस दौरान मोनिका मेहता ने अध्यापकों को बताया कि टाईनी टाट्स को कुछ सीखाने के लिए हमें भी उन जैसा बनने की अावश्यकता होती है। यदि खेल खेल में विद्यार्थियों को सिखाया जाए तो वह आम भाषा के मुकाबले में खेल से सीखे गए शब्दों को जल्द ग्रहण करते है।

OCT

इसी के साथ उन्होंने अध्यपाकों को विभिन्न रोचक गतिविधियों, ट्रयर हंट, बूझों तो जाने पहेलियां, विस्पर इन माई इयर, देखे व पहचाने, अक्षर व नम्बर ज्ञान पहचान, आदि के माध्यम से विभिन्न प्रकार की जानकारी मुहैया करवाई। उन्होंने कहा कि विद्यार्थियों के मानसिक विकास पर भी अध्यापकों को विशेष रूप से ध्यान देना चाहिए। उन्हें खेल के मैदान में विभिन्न प्रकार के खेल खिलाने चाहिए। जैसे कि मैदान में सांप सीड़ी को ड्रा करके बच्चों को खेलने के लिए कहा जाए। इस प्रकार के खेल उनमें एक नया उत्साह पैदा करते है। बच्चों को कक्षा में यदि गीतों के माध्य से रिदम तथा राईम को ध्यान में रखते हुए पढ़ाया जाए तो वह पाठ उनके लिए अविस्मरणीय होगा। इस दौरान उन्होंने अध्यापकों को विद्यार्थियों में आत्मविश्वास, लीडरशिप के गुण पैदा करने के लिए प्रेरित किया। इस दौरान मुख्य वक्ता तथा अध्यापकों के मध्य एक डैमो सैशन भी रखा गया जिसमें आज सिखाई गई बातों को दोहराने तथा एक्ट करने के लिए कहा गया।

jan sangathan

Media/News Company

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Facebook Auto Publish Powered By : XYZScripts.com