आधार कार्ड न होने के कारण खूले में ही दिया बच्ची को जन्म, डॉक्टर-नर्स सस्पेंड

नई दिल्लीः गुड़गांव के शीतला कॉलोनी से इंसानियत को शर्मसार करने वाला मामला सामने आया है यहां आधार कार्ड न होने के कारण महिला को हॉस्पिटल में भर्ती नहीं किया गया जिस कारण 25 वर्ष महिला ने इमरजेंसी वार्ड के बाहर खुले में ही बच्ची को जन्म दिया।

एचटी में छपी रिपोर्ट के मुताबिक- आधार कार्ड की कापी न होने की वजह हॉस्पिटल ने महिला मुन्नी(25) का अंट्रासाउंड टेस्ट करने से इनकार कर दिया और उसे हॉस्पिटल में भर्ती भी नहीं किया गया जिसके बाद इमरजेंसी वार्ड के बाहर खुले में ही महिला ने एक बच्ची को जन्म दिया।

19-Dec

महिला के पति बबलू ने जानकारी देते हुए बताया कि बिना किसी मेडिकल सहायता के मुन्नी ने हॉस्पिटल के बाहर बेटी को जन्म दिया। हॉस्पिटल को मुन्नी का वोटर आईडी कार्ड दिया था, लेकिन स्टाफ ने आधार की मांग की। मुन्नी करीब दो घंटे तक दर्द में ही हॉस्पिटल के इमरजेंसी गेट पर खड़ी रही थी। बच्चे के जन्म होने पर पास वहां खड़े लोगों ने हॉस्पिटल के खिलाफ आवाज उठाई तब जाकर मुन्नी को वार्ड में भर्ती किया गया।

जिसके बाद इमरजेंसी वार्ड के पास लोगों की भीड़ जमा हो गई थी और एक पीसीआर वैन भी वहां पहुंचा था। लेकिन मुन्नी और उसके पति ने शिकायत दर्ज नहीं कराई। मुन्नी ने कहा कि वह किसी को दोष नहीं देना चाहती है। वह अब घर जाना चाहती है। रिपोर्ट के मुताबिक, गुड़गांव के प्रिंसिपल मेडिकल ऑफिसर प्रदीप शर्मा ने हॉस्पिटल स्टाफ द्वारा लापरवाही की बात स्वीकार की है और एक डॉक्टर और एक नर्स को सस्पेंड कर दिया है।

jan sangathan

Media/News Company

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Facebook Auto Publish Powered By : XYZScripts.com