जेल में बंद दोषी को रिश्वत लेकर बाहर निकालने के आरोप में 4 व्यक्ति गिरफ्तार, हैड वार्डन समेत दो पुलिस मुलाजिम भी शामिल

संगरुर (यादविंदर लॉली): मलेरकोटला जेल में बंद दोषी रमनीत गर्ग से रिश्वत लेकर दवाई लेने के बहाने बाहर भेजने का पर्दाफाश हुआ है। इस मामले में सब जेल का हैड वार्डन कंगण खां, हवलदार जगतार सिंह, सिपाही जसकीरत सिंह और पूर्व सरपंच हरदेव सिंह वासी अलीपुर को गिरफ्तार किया गया है। यह जानकारी एसएसपी मनदीप सिंह सिद्धू ने प्रैस कॉन्फ्रैंस के दौरान दी।

19-Dec

उन्होंने बताया कि दोषी रमनीत गर्ग 250 ग्राम नशीला पाउडर बरामद होने के कारण जेल में बंद है जिसके साथ पहले पूर्व सरपंच हरदेव सिंह जेल में बंद था। ये दोनों इक्ट्ठे एक बरैक में बंद थे। हरदेव सिंह अब जमानत पर बाहर आया है। उसने अपनी बहन की शादी में रमनीत को शामिल करने के लिए हैड वार्डन कंगण खां से बातचीत की और फार्मसिस्ट विनोद कुमार को 8 हजार रुपए रिश्वत देकर मैडिकल इलाज संबंधी सिविल अस्पताल में रमनीत को रैफर करवाया।

उसके बाद हरदेव सिंह ने दो पुलिस मुलाजिमों को 5 हजार रुपए रिश्वत दी जो रमनीत को सिविल अस्पताल ले गए जहां डॉक्टर ने दोषी रमनीत गर्ग को कोई बीमारी न होने के कारण छुट्टी दे दी। लेकिन दोषी को जेल लेजाने की बजाए मुलाजिम उसे हरदेव सिंह की बहन के विवाह में विक्रांत पैलेस ले गए और शादी के बाद उसे जेल लेकर गए। एसएसपी मनदीप सिंह सिद्धू ने बताया कि फिलहाल फार्मसिस्ट विनोद कुमार फरार है जिसकी तलाश पुलिस कर रही है। उन्होंने कहा कि विनोद भी जल्द पुलिस की गिरफ्त में होगा।

jan sangathan

Media/News Company

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Facebook Auto Publish Powered By : XYZScripts.com